आईटीआई का फुल फॉर्म ( ITI Ka Full Form in Hindi )

आईटीआई का फुल फॉर्म ( ITI Ka Full Form in Hindi ) 


आईटीआई का फुल फॉर्म अगर आप सभी कक्षा दस या कक्षा बारह उत्तीर्ण हो चुके हैं ओर आप अच्छे कोर्स में प्रवेश करना चाहते हैं तो आप ITI में प्रवेश कर सकते हैं। ITI  प्रवेश करने के बाद आप अपने करियर को एक नयी दिशा प्रदान करते हैं । इस कोर्स को करने के बाद आप स्वयं का व्यवसाय भी कर सकते हैं या आप सरकारी या तो प्राइवेट नौकरी को आवेदन कर सकते हैं यह कोर्स में आपको ट्रेड के अनुसार प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, आप अपने क्षेत्र के अनुसार कुशल हो सकते है। इस पोस्ट पर ITI Ka Full Form in Hindi, क्या मतलब होता है, इस विषय में बताया जा रहा है 


आईटीआई का फुल फॉर्म (FULL FORM)


आईटीआई का फुल फॉर्म, Industrial Training Institute है । हिन्दी में इसकी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कहा जाता है। आईटीआई एक प्रकार से कोर्स होता है। यह कोर्स पर प्रवेश करने के बाद आप किसी भी ट्रेड पर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं। यह कोर्स पुरा करने के बाद आपको किसी भी टेक्निकल कंपनी पर आप रोजगार प्राप्त कर सकते हैं । यह कोर्स सरकारी ओर निजी दोनों संस्थान के द्वारा किया जा सकता है |

ITI-Ka-Full-Form-in-Hindi

आईटीआई का क्या मतलब होता है (ITI MEANING) ?


ITI एक प्रकार से औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान है । इस संस्थान के राज्य के निर्देशानुसार प्रवेश प्रक्रिया के माध्यम से प्रवेश कर सकते हैं। इसके स्थापना का उद्देश्य के समय में बहुत तेजी से बढ़ते हुए इंडस्ट्रियल एरिया के लिये मैन पावर का तैयार करना है इसके प्रदान किया जाने वाले प्रशिक्षण अभ्यर्थी को किसी एक व्यवसाय में कुशल बनाया जाता है, यह प्रशिक्षण में व्यावहारिक ओर ज्ञान को अधिक प्रदान किया जाता है।

ITI एक एजुकेशन इंस्टीटूशन है, यहाँ पर छात्रों को टेक्निकल कार्य का प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है
ITI कोर्स होने के बाद आपको ट्रेड से सम्बन्धित कंपनी में रोजगार करने का मौका मिलता है इन सभी संस्थान में DGT के मानकों का स्टैंडर्ड्स ओर प्रोसीजर का पालन करके अपनी इंस्टीटूट्स में वोकेशनल या टेक्निकल ट्रेनिंग प्रोग्रामर्स का संचालन कर रहे है। 
इन ही ITI या इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के नाम से जाना जाता है आप सभी को यहाँ पर ITI का अर्थ इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग देता है।

ITI एक प्रशिक्षण संस्थान है, यही पर सरकारी ओर प्राइवेट दोनों हो सकती है । इसके निमार्ण उच्च माध्यमिक विद्यालय के छात्र को उद्योग संबंधी प्रशिक्षण प्रदान करता है। इस प्रशिक्षण संस्थान में कुछ ट्रेडों को  8वीं के बाद भी किया जा सकता है
ओर कुछ ट्रेडों को 10वीं के बाद तथा ओर कुछ ट्रेडों को 12वीं के बाद किया जाता है । ITI का प्रशिक्षण उन छात्र के लिए स्थापित किए गए हैं, जो उच्च अध्ययन करने के लिए बजाय कुछ तकनीक के ज्ञान प्राप्त करना चाहते हैं। इसके गठन महानिदेशालय रोजगार ओर प्रशिक्षण, कौशल विकास ओर उद्यमिता मंत्रालय ओर केंद्र सरकार के अंतर्गत विभिन्न ट्रेडों का
प्रशिक्षण करने के लिए किया जाता है ।


आईटीआई में प्रवेश (ITI ADMISSION)


ITI पर प्रवेश करने के लिए आपको इसके प्रवेश From को भरकर submit करना होगा । यह From
प्रत्येक वर्ष जुलाई के महीने में जारी किया जाता है
ITI ADMISSION मेरिट बेस होता है । ओर कुछ कोर्सों के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन भी किया जाता है ओर सभी राज्य में इसके अलग अलग नियम होता है।

ITI AGE LIMIT, ITI परीक्षा के लिए छात्र की आयु न्यूनतम 14 वर्ष ओर अधिकतम 40 वर्ष के निर्धारित किया गया है आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को नियमानुसार छूट प्रदान की जाती है 


आईटीआई कोर्स (ITI COURSE)


आईटीआई कोर्स में संचालित होने के लिए आपको पाठ्यक्रमों के ट्रेड्स रूप में जाना जाता है ओर यह ट्रेड्स फिटर, इलेक्ट्रीशियन, मैकेनिक ट्रैक्टर आरएसी ओर इत्यादि हो सकती है अगर आपके पाठ्यक्रम तो बड़ी है तो उसकी अवधि दो वर्ष निर्धारित की जाती है। 

तो उसमें 2 सेमेस्टर होते है। ओर ITI के पाठ्यक्रम के 

विभिन्न उद्योगों से सम्बंधित होता है जैसे कि, इलेक्ट्रॉनिक्स, मैकेनिकल, सूचना प्रौद्योगिकी, निर्माण, ऑटोमोबाइल, डीजल 


प्रमुख आईटीआई कोर्स इस प्रकार है-


Fitter

Draughtsman – Mechanical

Draughtsman – Civil

Pump operator

Turner

Plumber

Wireman

Diesel Mechanical

Information technology

Post a Comment

0 Comments